spot_img
22.1 C
New Delhi
Tuesday, December 6, 2022

Child Pornography Case: 76 शहरों में CBI की छापेमारी, ओडिशा में अधिकारी की पिटाई

नई दिल्ली।  बच्चों का अश्लील वीडियो (Child Pornography Case) बनाकर उसे सोशल मीडिया (Social media) पर डालने का मामला तेजी से बढ़ रहा था। मामले को लेकर मंगलवार को एक साथ पूरे देश के 76 शहरों में छापेमारी की गई। यह छापेमारी 14 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के शहरों में की गई है। CBI ने 14 नवंवर को इस मामले में 23 अलग-अलग केस दर्ज किए थे। वहीं, मामले में 83 लोगों को आरोपी बनाया गया।

New Excise Policy: Delhi में नई आबकारी नीति लागू, 250 प्राइवेट ठेकों पर मिलेगी शराब
इन राज्यों की गई छापेमारी

CBI के मुताबिक, Child porn case को लेकर मंगलवार की सुबह से ही मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र, आंध्रप्रदेश, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, पंजाब, बिहार, ओडिशा, तमिलनाडु, राजस्थान, गुजरात, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश में अलग-अलग जगहों पर लोगों के घरों में छापा मारी की गई।
बच्चों के साथ शोषण के बढ़े 400 फीसदी मामले

दरअसल, नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो (National Crime Record Bureau) के आंकड़ों के अनुसार 2019 के मुकाबले 2020 में बच्चों के अश्लील वीडियो (Child porn case) बनाने उनका शोषण करने के मामलों में 400 फीसदी तक की बढ़ोतरी हुई है। मंगलवार को की गई छापेमारी में सीबीआई को भारी मात्रा में आपत्तिजनक दस्तावेज और डेटा मिले हैं।
चंदौली के युवक से घंटों पूछताछ

यूपी के चंदौली में भी लखनऊ से आई सीबीआई की टीम ने मुगलसराय कोतवाली क्षेत्र निवासी सूरज नामक युवक से घंटों पूछताछ की। इसके साथ ही उसका मोबाइल जब्‍त कर लिया। सीबीआई टीम चार घंटे तक सूरज के घर में मौजूद रही। सूरज ने सीबीआई टीम को बताया कि दोस्‍ती के नाम पर कई ग्रुप से जुड़ने के बाद उसे विदेशी नंबरों से लिंक आते थे, जिसमें अश्‍लील वीडियो होते थे। कुछ दिन पहले उसने कई ग्रुपों को डिलीट कर दिया था।
दिल्ली में लखनऊ जैसी घटना, कैब ड्राइवर को महिला ने जमकर पीटा, Video वायरल
छापेमारी के दौरान अधिकारी की पिटाई

ओडिशा के ढेंकनाल जिले में सीबीआई छापेमारी करे गई थी। इस दौरान कुछ लोगों ने अधिकारियों पर हमला कर दिया और उनकी जमकर पिटाई की। जुबुली नायक नाम के शख्स के घर पर हुई इस घटना के बाद इलाके में तनाव बढ़ गया।

Child porn case

 

स्पेशल कमिटी का गठन

चाइल्ड पॉर्न (Child porn case) से संबंधित कई मामले सामने आने के बाद सीबीआई ने एक स्पेशल कमिटी का गठन किया। इसे लेकर पोक्सो कानून को हाल ही में और भी सख्त बनाया गया है। वहीं आईटी एक्ट में भी इसके लिए सजा और भारी जुर्माने का प्रावधान है।

चाइल्ड पोर्नोग्राफी से संबंधित लगभग 18.4 मिलियन रिपोर्ट

वेबसाइट्स पर बैन होने के बाद चाइल्ड पोर्नोग्राफी (Child porn case) का अवैध कारोबार वाट्सऐप जैसे सोशल मीडिया के माध्यम से फलफूल रहा है। कई हैकर्स भी बच्चों की नादानी का फायदा उठाकर उन्हें अपना शिकार बना रहे हैं। न्यूयॉर्क टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक पिछले साल इंटरनेट पर चाइल्ड पोर्नोग्राफी से संबंधित लगभग 18.4 मिलियन रिपोर्ट पाई गई हैं जिसमें बच्चों को सेक्सुअली अब्यूज करते हुए लगभग 45 मिलियन फोटो और विडियो सम्मिलित थे।

सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।
Archana Kanaujiya
Archana Kanaujiya
I am Archana Kanaujiya working as Content Writer/Content Creator. I have more than 2 years of experience in Content Writing, Editing and Photography.

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img

INDIA COVID-19 Statistics

44,674,874
Confirmed Cases
Updated on December 6, 2022 7:20 PM
530,633
Total deaths
Updated on December 6, 2022 7:20 PM
5,436
Total active cases
Updated on December 6, 2022 7:20 PM
44,138,805
Total recovered
Updated on December 6, 2022 7:20 PM
- Advertisement -spot_img

Latest Articles