spot_img
28.1 C
New Delhi
Sunday, September 25, 2022

प्रधानमंत्री के खाने पर नहीं खर्च किए जाते सरकारी पैसे – RTI

पीएम मोदी के खाने पर खर्च नहीं   होती सरकारी पैसा, खुद वहन करते हैं खाने का खर्च: RTI

नई दिल्ली: संसद सदस्यों (सांसदों) और केंद्रीय मंत्रियों को कई सुविधाएं प्रदान की जाती हैं लेकिन देश के प्रधान मंत्री के लिए ऐसा नहीं कहा जा सकता है। एक आरटीआई के जवाब के मुताबिक, पीएम मोदी अपने खाने का खर्च खुद वहन करते हैं और सरकार के बजट से इस पर एक रुपया भी खर्च नहीं किया जाता है।

पीएम के खाने पर नहीं होता 1 रूपया भी सरकारी खर्च

प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने आरटीआई के जरिए पूछे गए सवाल पर यह जानकारी दी है. प्रधानमंत्री कार्यालय के सचिव बिनोद बिहारी सिंह ने आरटीआई का जवाब देते हुए कहा है कि सरकार के बजट से एक रुपया भी पीएम के खाने पर खर्च नहीं होता है . इसके साथ ही प्रधानमंत्री आवास (पीएम आवास) की सुरक्षा केंद्रीय लोक निर्माण विभाग द्वारा की जाती है। जबकि वाहनों की जिम्मेदारी एसपीजी के पास होती है। आरटीआई में वेतन संबंधी जानकारी भी मांगी गई थी, लेकिन इस सवाल के जवाब में नियमों का हवाला देकर ही नियमानुसार वेतन वृद्धि की जानकारी दी गई है।

साल 2014 में लोकसभा चुनाव जीतने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसद में प्रवेश किया। इसके बाद 2 मार्च 2015 को बजट सत्र के दौरान उन्होंने संसद भवन की पहली मंजिल पर बनी कैंटीन में पहुंचकर सबको चौंका दिया.

संसद कैंटीन में पहुंचे थे प्रधानमंत्री

वर्तमान सरकार ने संसद में चल रही कैंटीन को लेकर कई सुधार किए हैं। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने 19 जनवरी 2021 को संसद की कैंटीन में सांसदों को दी जाने वाली सब्सिडी को खत्म कर दिया था। 2021 से पहले संसद की कैंटीनों में सब्सिडी पर 17 करोड़ रुपये खर्च किए जाते थे।

 

 

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img

INDIA COVID-19 Statistics

44,568,114
Confirmed Cases
Updated on September 25, 2022 1:27 PM
528,510
Total deaths
Updated on September 25, 2022 1:27 PM
43,994
Total active cases
Updated on September 25, 2022 1:27 PM
43,995,610
Total recovered
Updated on September 25, 2022 1:27 PM
- Advertisement -spot_img

Latest Articles