spot_img
18.1 C
New Delhi
Monday, November 28, 2022

Delhi : राजधानी दिल्‍ली में व्यावसायिक वाहनों के लिए RFID टैग अनिवार्य

नई दिल्ली। आज से राजधानी दिल्ली में बिना रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (RFID) टैग के व्यावसायिक वाहन प्रवेश नहीं कर सकेंगे । दिल्ली में प्रवेश के लिए व्यावसायिक वाहनों पर टोल वसूली कैशलैस करने की कोशिश में जुटे दक्षिणी दिल्ली नगर निगम ने अब तक 11वीं डेडलाइन दे चुके है । 31 अगस्त से राजधानी के सभी 124 टोल नाकों पर रेडियो फ्रिक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन डिवाइस (आरएफआइडी) टैग से ही व्यावसायिक वाहनों को प्रवेश की अनुमति दी जाएगी। निगम ने एक सार्वजनिक सूचना जारी कर भी इसकी जानकारी दी है। इसके तहत अब बिना आरएफआइडी टैग के व्यावसायिक वाहनों को प्रवेश नहीं मिलेगा।

राहुल गांधी का मोदी सरकार पर निशाना, कहा-अनुच्छेद 15 व 25 भी बेच दिए!

दक्षिणी दिल्ली नगर निगम (SDMC)की ओर से जारी एक नोटिस के अनुसार, मंगलवार से बिना रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (RFID) टैग के दिल्ली में प्रवेश करने पर कमर्शियल वाहनों का चालान किया जाएगा और उनका परमिट रद्द किया जा सकता है।

दक्षिणी दिल्ली नगर निगम की ओर से शुक्रवार को जारी नोटिस में कहा गया है, “31 अगस्त से सभी कमर्शियल वाहनों को केवल रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (RFID) टैग सिस्‍टम के माध्यम से टोल टैक्स,पर्यावरण शुल्क (ECC) के भुगतान पर दिल्ली में प्रवेश करने की अनुमति दी जाएगी। आदेश में कहा गया है कि वे वाहन जो आरएफआईडी मोड के माध्यम से भुगतान किए बिना दिल्ली में प्रवेश करते हैं वे कानूनी कार्रवाई का सामना करने के लिए उत्तरदायी होंगे जिसमें जुर्माना, परमिट रद्द करना शामिल है।”

GATE 2022 के लिए आज से आवेदन शुरू, यहां देखें पूरा शेड्यूल

RFID टैग क्या है ?

रेडियो फ्रीक्वेंसी (Radio frequency) की पहचान या आरएफआईडी टैग अलग अलग वस्तुओं को पहचानने के लिए विद्युत चुम्बकीय क्षेत्रों का इस्तेमाल करता है। RFID टैग में एक छोटा रेडियो ट्रांसपोंडर, एक ट्रांसमीटर और एक रेडियो रिसीवर होता है जिसे रेडियो तरंगों के इस्तेमाल से पहचान करने और ट्रैकिंग के उद्देश्य से लगाया या डाला जाता है। RFID रीडर RFID टैग द्वारा भेजी गई सूचना को डीकोड करता है। यह बारकोड से तेज है क्योंकि RFID को कई बार पढ़ा जा सकता है जबकि बारकोड को एक बार में पढ़ा जा सकता है।

RFID टैग ख़रीदे, ऑनलाइन

RFID टैग को ऑनलाइन भी ख़रीदा जा सकता है या फिर रिचार्ज कराया जा सकता है। इसके लिए आपको दक्षिण दिल्ली नगर निगम की वेबासाइट ecctagsdmc.com पर जाकर अपना रजिस्ट्रेशन करें।

RFID और Barcodes में क्या है,अंतर 

RFID tags और बारकोड ये दोनों ही products के विषय में information carry करते हैं. लेकिन इन दोनों ही technologies के इस्तमाल में बहुत ही ज्यादा अंतर हैं।
Barcode readers को एक direct line of sight की जरुरत होती हैं उन printed barcode के लिए, वहीँ RFID readers को एक direct line of sight की जरुरत ही नहीं होती है।

RFID tags को आसानी से ज्यादा दुरी से एक RFID reader के द्वारा पढ़ा जा सकता है, जो की करीब 300 feet तक होता है। वहीँ एक barcode को read करने का range बहुत ही कम होता है, जो की 15 feet से भी कम होता है।

बारकोड के मुकाबले RFID tags ज्यादा costly होते हैं।

सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

Priya Tomar
Priya Tomar
I am Priya Tomar working as Sub Editor. I have more than 2 years of experience in Content Writing, Reporting, Editing and Photography .

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img

INDIA COVID-19 Statistics

44,672,827
Confirmed Cases
Updated on November 28, 2022 9:18 PM
530,614
Total deaths
Updated on November 28, 2022 9:18 PM
6,097
Total active cases
Updated on November 28, 2022 9:18 PM
44,136,116
Total recovered
Updated on November 28, 2022 9:18 PM
- Advertisement -spot_img

Latest Articles